Carrot Juice Benefits

गुणकारी गाजर का जूस पीने के फायदे

Health

Carrot Juice Benefits

इस सर्दी के मौसम में हमें बाजारों में देखने को मिलता है कि हर जगह नुक्कड़ पर गाजर का जूस दिखाई पड़ता है और लोग बड़े उत्साह के साथ इसे पीते हैं गाजर का जूस पीने से सेहत को बहुत फायदे होते हैं आज हम जानते हैं कि गाजर का जूस पीने से हमारे शरीर को क्या-क्या फायदे मिलते हैं

हम सभी को पता है गाजर पीने से शरीर में खून की मात्रा बढ़ती है क्योंकि इसमें अधिक मात्रा में हीमोग्लोबिन पाया जाता है गाजर का जूस पीने से शरीर में पाचन क्रिया सही बनी रहती है और उसको और अधिक शक्तिशाली बनाता है गाजर का जूस पीने के साथ-साथ गाजर खाने के भी बहुत अधिक फायदे होते हैं इसमें बहुत अधिक मात्रा में विटामिन ए सी और लोगों जैसे अन्य खनिज विटामिन पाए जाते हैं ऐसा नहीं है कि गाजर का जूस सिर्फ आपको सर्दी के मौसम में ही मिलता है गाजर का जूस 12 महीने आपको आसानी से मिल सकता है और आप इसका फायदा उठा सकते हैं

जूस के साथ-साथ गाजर एक सब्जी के रूप में भी खाया जाता है हम लोग गाजर को सब्जी या सलाद की तरह भी खा सकते हैं इसके खाने से चेहरे पर चमक आती है

आंखों के लिए गाजर का रस बहुत ही महत्वपूर्ण होता है यह आंखों की बीमारियों को दूर करता है और आंखों की रोशनी बढ़ाने में बहुत अधिक सहायक है

पाचन शक्ति को बढ़ाने में भी गाजर बहुत अधिक सहायक है जैसा कि आजकल देखा जाता है कि हमारे व्यस्त जीवन में हम अपने खान-पान का ध्यान नहीं रख पाते जिससे कि हमारी पाचन क्रिया बिगड़ जाती है और इसके बहुत से दुष्प्रभाव हमारे शरीर को झेलने पड़ते हैं इसलिए गाजर का जूस पीने से पाचन क्रिया सही ढंग से अपना कार्य करने में सक्षम रहती है

ह्रदय के लिए भी गाजर का जूस बहुत अधिक महत्वपूर्ण होता है क्योंकि इसमें अधिक मात्रा मे विटामिन तत्व होने के कारण शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम करता है और हमारे दिल को मजबूत और शक्ति प्रदान करता है

मधुमेह के रोग से लड़ने वाले लोगों को भी गाजर का जूस पीना चाहिए क्योंकि डायबिटीज में भी यह बहुत अधिक फायदेमंद होता है

सर्दी के मौसम में खांसी जुखाम होना आम बात हो जाती है खांसी से छुटकारा पाने के लिए हम गाजर के जूस में काली मिर्च मिलाकर काफी हद तक खांसी से छुटकारा पा सकते हैं

इन सभी फायदों को देखते हुए हम कह सकते हैं कि गाजर का जूस पीने से हमारे शरीर को बहुत अधिक शक्ति प्रदान होती है और जैसा कि कहा गया है पहला सुख निरोगी काया होता है तो हमें हर काम और व्यस्त जीवन को छोड़कर सबसे पहले अपने शरीर को महत्व देना चाहिए.

0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments